Rula Ke Gaya Ishq (LYRICS) – Stebin Ben | Bhavin, Sameeksha, Vishal | Sunny Inder, Kumaar

Producer: Anurag Bedi – Business Head Zee Music Company
Song – Rula Ke Gaya Ishq
Composer – Sunny Inder
Singer – Stebin Ben
Lyricist – Kumaar

Rula Ke Gaya Ishq LYRICS-(english)

Kaash Tu Mere Hakk Mein Hota
Banke Yakeen Shakk Mein Hota

Kaash Tu Mere Hakk Mein Hota
Banke Yakeen Shakk Mein Hota
Par Aisa Hua Nahi
Tu Hai Milon Door Kahin
Tere Sang Pal Do Pal Ko
Hasna Jo Chaaha To

Rula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Ke Maane Nahi Dil Yeh Mera
Kaise Chup Main Karaun Ve

Rula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Ke Maane Nahi Dil Yeh Mera
Kaise Chup Main Karaun Ve

Yaar Bichhda Mila De Ve Koyi
Akhan Rondi Aa Zaar Zaar Hansa De Koyi

Rula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Ke Maane Nahi Dil Yeh Mera
Kaise Chup Main Karaun Ve

Rula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Ke Maane Nahi Dil Yeh Mera
Kaise Chup Main Karaun Ve

Khwaabon Se Zyada
Aasuon Se Dosti Kar Baithe
Jeene Ki Khwaahish Mein
Lamha Lamha Mar Baithe

Khwaabon Se Zyada
Aasuon Se Dosti Kar Baithe
Jeene Ki Khwaahish Mein
Lamha Lamha Mar Baithe

Tu Aise Juda Hua
Main Raat, Tu Subah Hua
Tujh Pe Main Marta Raha
Tujhe Yaad Main Karta Raha

Bhula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Rula Ke Gaya Ishq Tera
Kaise Chup Main Karaun Ve

Rula Ke Gaya Ishq LYRICS-(hindi)

हो.. ओ..हो.. हो.. ओ..

काश तू मेरे हक़ में होता

बनके यक़ीं शक में होता

काश तू मेरे हक़ में होता

बनके यक़ीं शक में होता

पर ऐसा हुआ नहीं

तू है मीलों दूर कहीं

तेरे संग पल दो पल को

हँसना जो चाहा तो

रुला के गया इश्क़ तेरा

रुला के गया इश्क़ तेरा

के माने नहीं दिल ये मेरा

कैसे चुप मैं कराऊँ वे

रुला के गया इश्क़ तेरा

रुला के गया इश्क़ तेरा

के माने नहीं दिल ये मेरा

कैसे चुप मैं कराऊँ वे

यार बिछड़ा मिला दे कोई

आँखान रौंदियाँ जार

हँसा दे कोई

रुला के गया इश्क़ तेरा

रुला के गया इश्क़ तेरा

के माने नहीं दिल ये मेरा

कैसे चुप मैं कराऊँ वे

रुला के गया इश्क़ तेरा

रुला के गया इश्क़ तेरा

के माने नहीं दिल ये मेरा

कैसे चुप मैं कराऊँ वे

खाबों से ज़्यादा आँसुओं से दोस्ती कर बैठे

जीने की ख़्वाहिश में लम्हा-लम्हा मर बैठे

खाबों से ज़्यादा आँसुओं से दोस्ती कर बैठे

जीने की ख़्वाहिश में लम्हा-लम्हा मर बैठे

तू ऐसे जुदा हुआ

मैं रात तू सुबह हुआ

तुझपे मैं मरता रहा

तुझे याद मैं करता रहा

भुला के गया इश्क़ तेरा

रुला के गया इश्क़ तेरा

भुला के गया इश्क़ तेरा

रुला के गया इश्क़ तेरा

कैसे चुप मैं कराऊँ वे..

hi my name is prashant. i am author of this lyrics website. All the lyrics published on this website are not my own. All these lyrics are the property of those great lyricists. I thank all those lyricists. If anyone has any problem with these lyrics then direct mail me on [email protected] or whatsapp on 8692929800.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *