tujhse naraz nahi zindagi lyrics-Anup Ghoshal | LATA MANGESHKAR

Movie: Masoom (1983)
Song: Tujhse Naraaz Nahin Zindagi
Starcast: Naseeruddin Shah, Shabana Azmi, Tanuja, Urmila Matondkar and Jugal Hansraj
Singer: Anup Ghoshal
Music Director: R D Burman
Lyricist: Gulzar

tujhse naraz nahi Zindagi lyrics (english)


Tujhse naraz nahin zindagi, hairaan hoon main
O hairaan hoon main

Tere masoom sawaalon se pareshaan hoon main
O pareshaan hoon main

Tujhse naraz nahin zindagi, hairaan hoon main
O hairaan hoon main

Tere masoom sawaalon se pareshaan hoon main
O pareshaan hoon main

Jeene ke liye socha hi nahi dard sambhalane honge
Jeene ke liye socha hi nahi dard sambhalane honge

Muskuraye toh muskurane ke karz utaarne honge
Muskuraon kabhi toh lagta hai
Jaise honthon pe karz rakha hai

Tujhse naraz nahin zindagi, hairaan hoon main
O hairaan hoon main

Zindagi tere gham ne humein rishtey naye samjhaye
Zindagi tere gham ne humein rishtey naye samjhaye

Mile joh humein dhoop mein mile chaanv ke thande saaye
Tujhse naraz nahin zindagi, hairaan hoon main
O hairaan hoon main

Aaj agar bhar aayi hai boondein baras jaayegi
Aaj agar bhar aayi hai boondein baras jaayegi

Kal kya pata inke liye aankhen taras jaayegi
Jaane kab gum hua, kahan khoya
Ek aansun chupake rakha tha

Tujhse naraz nahin zindagi, hairaan hoon main
O hairaan hoon main

Tere masoom sawaalon se pareshaan hoon main

O pareshaan hoon mai

O pareshaan hoon main

O pareshaan hoon main

tujhse naraz nahi zindagi lyrics (hindi)

तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी
हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं

तेरे मासूम सवालों से
परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं

तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं

तेरे मासूम सवालों से परेशान हूँ मैं
हो परेशान हूँ मैं

जीने के लिए सोचा ही नहीं
दर्द संभालने होंगे

जीने के लिए सोचा ही नहीं
दर्द संभालने होंगे

मुस्कुराये तो, मुस्कुराने के
क़र्ज़ उतारने होंगे

हो मुस्कुराऊं कभी तो लगता है
जैसे होंठो पे क़र्ज़ रखा है

हो तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं

ज़िन्दगी तेरे ग़म ने हमें
रिश्ते नए समझाए

ज़िन्दगी तेरे ग़म ने हमें
रिश्ते नए समझाए

मिले जो हमें धूप में मिले
छाँव के ठण्डे साये

हो तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं

आज अगर भर आई है
बूंदे बरस जाएगी

आज अगर भर आई है
बूंदे बरस जाएगी

कल क्या पता किनके लिए
आँखें तरस जाएगी

ओ जाने कब गुम हुआ, कहाँ खोया
इक आंसू छुपा के रखा था

हो तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी, हैरान हूँ मैं
हो हैरान हूँ मैं

तेरे मासूम सवालों से परेशान हूँ मैं

हो परेशान हूँ मैं

हो परेशान हूँ मैं

हो परेशान हूँ मैं

hi my name is prashant. i am author of this lyrics website. All the lyrics published on this website are not my own. All these lyrics are the property of those great lyricists. I thank all those lyricists. If anyone has any problem with these lyrics then direct mail me on [email protected] or whatsapp on 8692929800.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *